Fastag, Fastag Recharge, Cash Recharge, Electronic Toll Collection, Toll Plaza, Toll TaxToll payment, Ministry of Road, Transport and Highways

शुरू होगी नई सुविधा जल्द कैश से करा सकते हैं फास्टैग को रिचार्ज

AUTOMOBILE CAR
  • फास्टैग को रिचार्ज करने के लिए ज्यादा विकल्प उपलब्ध कराने की तैयारी

केंद्र सरकार जल्द ही वाहनों में लगे फास्टैग को कैश के जरिए रिचार्ज कराने की सुविधा उपलब्ध करा सकती है। 15 दिसंबर से फास्टैग को अनिवार्य करने के बाद इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन (ईटीसी) में तेज बढ़ोतरी हुई है। अब सरकार इसको रिचार्ज कराने के ज्यादा विकल्प उपलब्ध कराने के लिए नई सुविधा शुरू करने जा रही है।

हाईब्रिड लेन में 40 फीसदी से ज्यादा ट्रैफिक

सड़क परिवहन मंत्रालय ने 15 जनवरी तक सभी टोल प्लाजा पर 25 फीसदी लेन को हाईब्रिड रखने का फैसला किया था। इसका मकसद लोगों को आवाजाही में आसानी और फास्टैग लगाने के लिए समय देना था। मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार अभी भी 40 फीसदी से ज्यादा वाहन इन हाईब्रिड लेन का इस्तेमाल कर रहे हैं। हाईब्रिड लेन में कैश और इलेक्ट्रॉनिक दोनों तरीकों से टोल का भुगतान किया जा सकता है। मामले से वाकिफ एक अधिकारी के कहना है कि फास्टैग को टोल बूथ या अन्य स्थानों पर कैश के जरिए रिचार्ज कराया जा सकता है। इसके अलावा सरकार की ओर से बनाए जा रहे बूथों पर भी कैश रिचार्ज की सुविधा उपलब्ध होगी।

फास्टैग के जरिए आ रहा 60 फीसदी टोल टैक्स

इस मामले से वाकिफ एक अधिकारी का कहना है कि मौजूदा समय फास्टैग के जरिए करीब 60 फीसदी टोल टैक्स का कलेक्शन हो रहा है। अधिकारी के अनुसार फास्टैग को अनिवार्य किए जाने के तीन सप्ताह तक इलेक्ट्रॉनिक रूप से टोल टैक्स कलेक्शन में तेज वृद्धि देखी गई थी, जो अब थम गई है।

कल से केवल एक हाईब्रिड लेन

नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने टोल प्लाजा पर लगने वाले जाम से निपटने के लिए 15 दिसंबर से फास्टैग के जरिए इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन को अनिवार्य कर दिया है। अब 15 जनवरी से सभी टोल प्लाजा पर केवल एक हाईब्रिड लेन होगी। एक अन्य अधिकारी के अनुसार कुछ टोल प्लाजा पर यातायत काफी कम है। इस कारण लोग फास्टैग की बजाए हाईब्रिड लेन का इस्तेमाल कर रहे हैं। 9 जनवरी तक 1.26 करोड़ फास्टैग जारी हो चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *